कोरोना संकट के बीच केंद्र सरकार ने 2 करोड़ से अधिक गरीबों को दिया एक लाख टन से ज्याद अनाज

कोरोना संकट के बीच केंद्र सरकार ने 2 करोड़ से अधिक गरीबों को दिया एक लाख टन से ज्याद अनाज

कोरोना संकट के बीच केंद्र सरकार ने 2 करोड़ से अधिक गरीबों को दिया एक लाख टन से ज्याद अनाज

नई दिल्ली । देश में कोरोना महामारी के बीच मोदी सरकार लोगों की सहायता के लिए युद्ध स्तर पर लगी हुई है। महामारी और लॉकडाउन के बीच सरकार गरीबों को मुफ्त में अनाज उपलब्ध करा रही है। प्रधानमंत्री गरीब गरीब कल्याण योजना के तहत 10 दिनों के अंदर 12 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश में अनाज उपलब्ध कराया गया है। योजना के शुरुआती दस दिनों में 2 करोड़ से अधिक लाभार्थियों को 1 लाख टन से अधिक अनाज वितरित किया जा चुका है।

खाद्य और सार्वजनिक वितरण विभाग के सचिव शुधांशु पांडे ने बताया कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (PMGKAY-3) और वन नेशन वन राशन कार्ड योजना के तहत महामारी के बीच गरीबों को अनाज उपलब्ध कराया जा रहा है। सचिव ने कहा कि विभाग ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (PM-GKAY-3) को दो महीने के लिए लागू कर दिया है। इस योजना के तहत प्रति माह 5 किलोग्राम प्रति व्यक्ति के मान से अतिरिक्त खाद्यान्नों (चावल / गेहूं) का एक अतिरिक्त कोटा प्रदान किया जा रहा है।

सचिव पांडे ने बताया कि खाद्यान्न वितरण मई 2021 के महीने के अनुसार हो रहा है। मई 2021 के महीने के लिए 12 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा 2 करोड़ से अधिक लाभार्थियों को 1 लाख मीट्रिक टन से अधिक वितरित किए गए हैं। उन्होंने कहा कि लगभग सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने जून 2021 के अंत तक मई और जून 2021 के महीनों के लिए इस योजना के तहत खाद्यान्न के वितरण को पूरा करने के लिए कार्य योजना का संकेत दिया है।

News Josh Live

यह भी पढ़ें

कुछ खास x