हरियाणा में अब कोरोना टेस्ट सभी के लिए नहीं होगा फ्री, स्वास्थ्य विभाग ने जारी की रेट लिस्ट

हरियाणा में अब कोरोना टेस्ट सभी के लिए नहीं होगा फ्री, स्वास्थ्य विभाग ने जारी की रेट लिस्ट

हरियाणा में अब कोरोना टेस्ट सभी के लिए नहीं होगा फ्री, स्वास्थ्य विभाग ने जारी की रेट लिस्ट

News Josh Live, 20 Sept, 2020

हरियाणा में अब लोगों को कोरोना टेस्ट के लिए मोटी फीस चुकानी पड़ेगी। स्वास्थ्य विभाग ने इसके लिए लैटर जारी किया है जिसमें स्वास्थ्य विभाग की तरफ से कोरोना टेस्ट के लिए रेटों की सूची जारी की गई है। स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जारी सूची के मुताबिक अब डॉक्टर की बिना पर्ची के टेस्ट करवाने वालों को 250 रुपये से लेकर 1600 रुपये तक की फीस चुकानी पड़ेगी। स्वास्थ्य विभाग के ऑर्डर के मुताबिक अगर कोई भी मरीज सरकारी अस्पताल में सीधा कोरोना टेस्ट करवाने पहुंचता है तो स्वास्थ्य विभाग ऐसे मरीजों से यह फीस वसूल करेगा।

हालांकि जिन मरीजों के पास सरकारी डॉक्टर की पर्ची होगी, उनका कोरोना टेस्ट फ्री किया जाएगा। आपको बता दें कि प्रदेश में सोमवार से स्कूल खुल रहे हैं। ऐसे में हजारों की संख्या में अध्यापकों को कोरोना टेस्ट के लिए कहा गया है। अब इन अध्यापकों को कोरोना टेस्ट करवाने के लिए या तो सरकारी डॉक्टरों के पास चक्कर काटने पड़ेंगे या फिर कोरोना टेस्ट के लिए फीस चुकानी होगी  इतना ही नहीं नौकरी, व्यापार और अन्य जगहों पर जाने के लिए भी लोग कोरोना टेस्ट करवा रहे हैं। ऐसे में अस्पतालों में कोरोना टेस्ट करवाने वालों की संख्या में इजाफा हो रहा है।

अब बिना डॉक्टर के रेफर किए सीधे सरकारी अस्पताल पहुंचकर कोरोना जांच कराने वालों से फीस वसूली जाएगी। बता दें कि फीस उन्हीं से ली जाएगी, जिन्हें मेडिकल जांच की जरूरत नहीं है और विदेश या दूसरे राज्यों में यात्रा के लिए, नौकरी पर जाने के लिए या शिक्षण संस्थानों में दाखिला लेने जैसे अन्य कार्यों के लिए जांच करा रहे हैं। ऐसे लोगों से अब 250 रु. से 1600 रु. तक जांच का चार्ज लिया जाएगा। यानि मरीजों से फीस नहीं वसूली जाएगी।

वहीं मरीजों को अपने करीबी अस्पताल के डॉक्टर से जांच के लिए रेफर कराना होगा। इस संबंध में भी स्वास्थ्य विभाग के महानिदेशक द्वारा पत्र जारी किया गया है। नॉन मेडिकल कारणों से जांच कराने वालों के लिए अलग विंडो होगी। साथ ही स्वास्थ्य विभाग ने निर्णय लिया है कि प्रदेश में प्राइवेट अस्पतालों में जांच व इलाज के लिए तय रेट अब हरियाणा निवासियों के लिए ही रहेंगे। दूसरे प्रदेशों से आने वाले लोगों से प्राइवेट अस्पताल अपने स्तर पर चार्ज वसूल कर सकता है।

इस पर स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज का कहना है कि काफी संख्या में सामान्य लोग जांच कराने के लिए आ रहे हैं। इसलिए यह चार्ज तय किया  गया है। दूसरी ओर मरीजों से किसी प्रकार का पैसा नहीं लिया जाएगा। उनकी जांच पहले की तरह नि:शुल्क होगी। राज्य में अब तक 16 लाख से ज्यादा टेस्ट किए जा चुके हैं। पिछले 24 घंटे में जांच के लिए 28214 लोगों के सैंपल लिए गए हैं।

 

 

News Josh Live

यह भी पढ़ें

कुछ खास x