अब आपके हाथ में होगा डेबिट- क्रेडिट कार्ड का सारा कंट्रोल, जानिए कैसे ?

अब आपके हाथ में होगा डेबिट- क्रेडिट कार्ड का सारा कंट्रोल, जानिए कैसे ?

अब आपके हाथ में होगा डेबिट- क्रेडिट कार्ड का सारा कंट्रोल, जानिए कैसे ?

News Josh Live, 05 Oct, 2020

देशभर में रोजना कोई ना कोई डेबिट या क्रेडिट कार्ड के फ्रॉड का शिकार हो ही जाता है। ऐसे मे इस ब्रॉड से बचने के लिए सबसे अच्छा तरीका है कि अब आप अपनी मर्जी के हिसाब से सेवाओं को कभी भी बंद और चालू करवा सकते हो। जैसे अगर आप पीओएस या एटीएम से लेन-देन नहीं चाहते, सिर्फ ऑनलाइन पेयमेंट ही करना चाहते हैं, तो आप इसे कभी भी डिसेबल और इनेबल कर सकते हैं।

आपको बता दें कि रिजर्व बैंक ने डेबिट और क्रेटिड कार्ड को लेकर बढ़़ रहे फ्रॉड्स को रोकने के लिए सभी बैंकों को आदेश दिया था कि वो बेवजह ही ग्राहकों के कार्ड में इंटरनेशनल सुविधाएं न दें, जबतक कि ग्राहक खुद इसकी मांग न करे। इसके अलावा भी कई और बदलाव क्रेडिट और डेबिट कार्ड को लेकर हुए हैं, जिससे आपका अपने कार्ड पर बेहतर नियंत्रण होगा और धोखाधड़ी का खतरा भी घटेगा।

शुरुआत में आप अपने डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल सिर्फ पीओएस से पेयमेंट करने या एटीएम से पैसा निकालने में ही कर सकेंगे। ये बदलाव सभी मौजूदा कार्ड्स, नए कार्ड्स या हाल फिलहाल में रीन्यू कार्ड्स पर लागू होगा। नए जारी हुए कार्ड्स का इस्तेमाल पीओएस या एटीएम में ही किया जा सकेगा।

अगर आप ऑनलाइन, कॉन्टैक्टलेस या फिर इंटरनेशनल लेन-देन के लिए कार्ड्स का इस्तेमाल करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको सेवाएं मैनुअली शुरू करनी होंगी। इन सेवाओं को आप मोबाइल ऐप या नेटबैंकिंग के जरिए शुरू कर सकते हैं। इसके अलावा एटीएम या बैंक ब्रांच में जाकर भी ये सेवाएं शुरू कराई जा सकती हैं।

निकासी रकम का निर्धारण कर सकते हैं आपके कार्ड से निकाली जाने वाली राशि को भी सीमित कर सकते हैं, जैसे अगर आप चाहते हैं कि आपके कार्ड से एक दिन में 5 हजार रुपए से ज्यादा का न तो पेयमेंट हो सके और न ही एटीएम से निकासी हो सके, तो आप इसको फिक्स कर सकते हैं। इसे आप जब चाहें घटा या बढ़़ा भी सकते हैं, यानि आपके कार्ड पर पूरी तरह से आपका नियंत्रण होगा। मगर ये लिमिट बैंक की ओर से दी गई सीमा के अंदर ही होनी चाहिए।

News Josh Live

यह भी पढ़ें

कुछ खास x