पहलवान सुशील कुमार की तलाश में जुटी पांच राज्यों की पुलिस, नेपाल भागने का अंदेशा

पहलवान सुशील कुमार की तलाश में जुटी पांच राज्यों की पुलिस, नेपाल भागने का अंदेशा

पहलवान सुशील कुमार की तलाश में जुटी पांच राज्यों की पुलिस, नेपाल भागने का अंदेशा

ओलंपिक पदक विजेता सुशील पहलवान की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। छत्रसाल स्टेडियम में जूनियर नेशनल चैंपियन रहे सागर पहलवान की हत्या के मामले में आरोपी सुशील पहलवान को पुलिस तलाश रही है, लेकिन अभी तक कोई सुराग नहीं मिला है। दिल्ली पुलिस की दर्जन भर से अधिक टीमें सुशील की तलाश में पांच राज्यों में दबिश दे रही हैं।

मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी ने बताया कि दिल्ली पुलिस की 12 से अधिक टीमें दिल्ली-एनसीआर, हरियाणा, राजस्थान, यूपी और उत्तराखंड में छापामारी कर रही है। सुशील की आखिरी लोकेशन हरिद्वार की मिली थी। उसके बाद से लगातार मोबाइल बंद है।

वहीं सूत्रों का दावा है कि पुलिस की एक टीम ने शुक्रवार को सुशील के गुरु और ससुर सतपाल से बातचीत की। सतपाल ने सुशील के बारे में कोई भी जानकारी होने से इनकार किया है। सूत्रों का कहना है कि एक या दो दिन में सुशील पुलिस के सामने पेश हो सकता है। सुशील फिलहाल कानूनी सलाह ले रहा है।

दूसरी ओर पुलिस ने गिरफ्तार आरोपी प्रिंस दलाल से पूछताछ के बाद उस दिन घटना में मौजूद 17 युवकों की एक सूची तैयार की है। उसके आधार पर पुलिस सभी की तलाश कर रही है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि इन सभी के मोबाइल बंद आ रहे हैं। अभी तक की जांच में प्रॉपर्टी के पीछे झगड़े की बात सामने आ रही है। वहीं, सूत्रों का कहना है कि झगड़े की एक वजह टशन भी है। पुलिस सभी पहलुओं से मामले की जांच कर रही है।

बता दें कि छत्रसाल स्टेडियम में पूर्व जूनियर नेशनल चैंपियन पहलवान सागर की पीटकर हत्या के मामले में ओलंपिक पदक विजेता सुशील पहलवान आरोपी है। इस मामले में गिरफ्तार आरोपी प्रिंस दलाल के मोबाइल फोन से पुलिस को मिली वीडियो क्लिप में सुशील अपने साथियों के साथ सागर व उसके दोस्तों की पिटाई करते दिखाई दे रहे हैं।

बता दें कि छत्रसाल स्टेडियम में पूर्व जूनियर नेशनल चैंपियन पहलवान सागर की पीटकर हत्या के मामले में ओलंपिक पदक विजेता सुशील पहलवान आरोपी है। इस मामले में गिरफ्तार आरोपी प्रिंस दलाल के मोबाइल फोन से पुलिस को मिली वीडियो क्लिप में सुशील अपने साथियों के साथ सागर व उसके दोस्तों की पिटाई करते दिखाई दे रहे हैं।

उत्तर-पश्चिम जिले के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि छानबीन के दौरान पुलिस को छत्रसाल स्टोडियम में घटना स्थल का कोई वीडियो नहीं मिला है। गेट व घटना स्थल के पास कोई सीसीटीवी कैमरे नहीं थे। सूत्रों का कहना है कि जिस रात पूरा बवाल हुआ, उस दिन सुशील के घर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज के साथ छेड़छाड़ की गई है। पुलिस उसकी भी जांच कर रही है।

News Josh Live

यह भी पढ़ें

कुछ खास x