हरियाणा को कोरोना से बचाने के लिए प्रदेश के मुखिया उतरे मैदान में

हरियाणा को कोरोना से बचाने के लिए प्रदेश के मुखिया उतरे मैदान में 

हरियाणा को कोरोना से बचाने के लिए प्रदेश के मुखिया उतरे मैदान में 
चण्डीगढ़, 3 मई – हरियाणा को कोरोना से बचाने के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री  मनोहर लाल खुद मैदान में उतरे हुए हैं और दिन रात इस संबंध में अधिकारियों से बैठकें कर रहे हैं। केंद्र सरकार से संपर्क साध रहे हैं और लोगों की समस्याओं दूर करने के लिए प्रयासरत हैं।  मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल न केवल चंडीगढ़ से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश के अधिकारियों से बातचीत कर रहे हैं बल्कि लगातार फील्ड में भी जा रहे हैं। पिछले एक सप्ताह में मुख्यमंत्री 17 जिलों का  दौरा करके कोरोना से निपटने की तैयारियों का जायज़ा ले चुके हैं। मुख्यमंत्री के इन प्रयासों से प्रदेश में कोरोना को लेकर स्थिति लगातार बेहतर हो रही है और हरियाणा इस महामारी को हराने की दिशा में मज़बूती से लगातार आगे बढ़ रहा है।
हरियाणा सरकार ने वरिष्ठ आईएएस अधिकारियों को सभी 22 जिलों में तैनात किया है ताकि कोरोना से निपटने से संबंधित तैयारियों में कोई कोर कसर बाकी ना रहे। इसके साथ ही कई जिलों में एचसीएस अधिकारियों की ड्यूटी भी लगायी गई है।
अगर पिछले एक हफ़्ते की तुलना की जाए तो हरियाणा में अब स्थिति लगातार सुधर रही है। चाहे वह कोरोना से होने वाली मौतों का प्रतिशत हो, प्रदेश में मेडिकल सुविधाएँ हों, दवाइयाँ या अस्पतालों में बेड्स की उपलब्धता हो या फिर ऑक्सीजन की उपलब्धता, कोरोना को हराने के लिए हरियाणा हर क्षेत्र में लगातार बेहतर प्रदर्शन कर रहा है। हरियाणा में 24 अप्रैल, 2021 को कोरोना से होने वाली मृत्यु दर 0.90 प्रतिशत थी जो अब और घटकर 0.87 प्रतिशत रह गई है। इसी प्रकार, हरियाणा में 19 अप्रैल, 2021 को 3663 मरीज ठीक हुए थे जबकि 2 मई, 2021 को यह आंकड़ा लगभग तीन गुना बढक़र 10423 हो गया।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल के प्रयासों से 22 अप्रैल, 2021 को प्रदेश का ऑक्सीजन कोटा 156 मीट्रिक टन से बढक़र 162 मीट्रिक टन हो गया था वहीं अब यह कोटा 257 मीट्रिक टन हो गया है। हरियाणा सरकार ने प्रदेश में ऑक्सीजन सप्लाई की निगरानी करने के लिए एक राज्य स्तरीय कंट्रोल रूम बनाया है। राज्य में पीएसए तकनीक आधारित छ: प्लांट फऱीदाबाद, सोनीपत, करनाल, अंबाला, पंचकूला और हिसार में तैयार हो चुके हैं। इनमें से सोनीपत प्लांट से उत्पादन शुरू हो चुका है और बाकी प्लांट्स से 3-4 दिनों में उत्पादन शुरू हो जाएगा।
हरियाणा में कोरोना से लड़ाई के लिए टीकाकरण काफी तेजी से किया जा रहा है। प्रदेश सरकार द्वारा 18-44 वर्ष की उम्र के लोगों का टीकाकरण भी शुरू कर दिया गया है। इससे पूर्व, 45 से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण किया जा रहा था। अब तक करीब 40 लाख लोगों को कोरोना रोधी टीका लगाया जा चुका है। राज्य के सभी अस्पतालों व मेडिकल कॉलेजों में रेमडेसिविर और अन्य दवाइयाँ पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं और निरंतर आवश्यकतानुसार इनकी सप्लाई सुनिश्चित की जा रही है।
हरियाणा में एक सप्ताह के लिए पूर्ण लॉकडाउन भी लागू कर दिया है। इसके साथ ही, राज्य में रात्रि दस बजे से
सुबह पांच बजे तक कोरोना कफ्र्यू लगाया जा रहा है। प्रदेश सरकार लगातार इस कोशिश में है कि कोरोना को काबू किया जाए और इसके लिए यह जरूरी है कि प्रदेश के लोग भी सरकार द्वारा निर्धारित किए गए नियमों और कायदों का पालन करें।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने आम लोगों से यह अपील की है कि वे अपना टीकाकरण जरूर कराएं ताकि इस महामारी से लडऩे में अपना योगदान दे सकें।
क्रमां

News Josh Live

यह भी पढ़ें

कुछ खास x