सीएम और हुड्डा चुनौती देने की बजाय चुनाव लड़े- अभय चौटाला

सीएम और हुड्डा चुनौती देने की बजाय चुनाव लड़े- अभय चौटाला

सीएम और हुड्डा चुनौती देने की बजाय चुनाव लड़े- अभय चौटाला

News Josh Live, 13 Oct, 2020

हरियाणा इनेलो के प्रधान महासचिव एवं विधायक अभय चौटाला ने चुटकी लेते हुए कहा कि इस प्रदेश में दो व्यक्ति ऐसे हैं जो प्रेस कांफ्रेस करके बरोदा उपचुनाव लड़ रहे हैं, मैं तो कहता हूं कि भूपेंद्र हुड्डा और मुख्यमंत्री चुनौती देने की बजाय चुनाव लड़ लें ताकि दोनों को अंदाजा लग जाए कि वो कहां खड़े हैं।

उन्होंने कहा कि बरोदा हलके में 54 गाँव हैं और वो इन सभी गांवों का दौरा कर चुके हैं लेकिन ना तो हुड्डा और न ही मुख्यमंत्री एक भी गाँव में अब तक गए हैं। उन्होंने कहा कि हुड्डा और खट्टर की हिम्मत नहीं है कि बरोदा के लोगों का सामना कर सकें क्योंकि हुड्डा ने अपने दस साल के शासन में कोई काम नहीं किया व हलके के लोगों की अनदेखी की।

वहीं, भाजपा की हालत ऐसी है कि बरोदा तो छोड़ो वो प्रदेश के किसी भी गांव में जाकर अपना कार्यक्रम नहीं कर सकते क्योंकि उन्होंने जो तीन काले कृषि कानून बनाए हैं वो किसानों के खिलाफ हैं। किसानों में उसको लेकर बहुत गुस्सा है और लोग तब तक इसका विरोध करेंगे जब तक इनमें संशोधन नहीं हो जाता।

उन्होंने कहा कि वो बुधवार 14 अक्तूबर को अपने उम्मीदवार की घोषणा कर देंगे और पार्टी उसको अपना उम्मीदवार बनाएगी जिसने पार्टी को मजबूत करने का काम किया है इसलिए हमारा हर एक कार्यकर्ता अपने आप में उम्मीदवार होगा।

किसानों के धरने पर जवाब देते हुए कहा कि जहां भी भाजपा और जजपा के विधायक हैं और जो कहते हैं कि वो किसान के घर पैदा हुए हैं उन लोगों को विरोध का सामना करना पड़ेगा। अगर वो किसानों के हितैषी हैं तो फिर पुलिस बल का इस्तेमाल करके लोगों में भय पैदा करने के बजाय उनको किसानों के साथ आकर खड़ा होना पड़ेगा।

कृषि कानूनों पर विधान सभा सत्र बुलाने पर पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि हर हालत में सत्र बुलाना चाहिए और कृषि पर बनाए गए काले कानूनों पर खुल कर चर्चा करनी चाहिए लेकिन भाजपा सरकार ऐसा करेगी नहीं क्योंकि विधानसभा में उनकी पोल न खुल जाए इसलिए कोविड का बहाना बना कर टाल देगी।

 

News Josh Live

यह भी पढ़ें

कुछ खास x