हरियाणा के इस निर्दलीय विधायक के खिलाफ हुआ धोखाधड़ी का केस दर्ज, जानिए क्या है पूरा मामला

हरियाणा के इस निर्दलीय विधायक के खिलाफ हुआ धोखाधड़ी का केस दर्ज, जानिए क्या है पूरा मामला

हरियाणा के इस निर्दलीय विधायक के खिलाफ हुआ धोखाधड़ी का केस दर्ज, जानिए क्या है पूरा मामला

News Josh Live, 11 Oct, 2020

कृषि कानूनों को लेकर किसानों के साथ मिलकर प्रदेश सरकार के खिलाफ विरोध करने वाले महम से निर्दलीय विधायक बलराज कुंडू पर शिकंजा कस सकता है। बता दें कि उनके खिलाफ सेक्टर-51 थाने में साजिश के तहत धोखाधड़ी करने के साथ ही जान से मारने की धमकी देने का मामला दर्ज किया गया है।

दरअसल, निर्दलीय विधायक बलराज कुंडू केसीसी बिल्डकाम प्राइवेट लिमिटेड नामक कंस्ट्रक्शन कंपनी के निदेशक हैं। इसका मुख्य कार्यालय गुरुग्राम में गोल्फ कोर्स रोड स्थित एक बिल्डिंग में है। कंपनी में विधायक के साथ ही उनके भाई शिवराज कुंडू, बीके लांबा एवं मोहम्मद हाशिम भी निदेशक हैं।

इस कंपनी के पास मध्यप्रदेश में एक रोड बनाने का ठेका है। पूरा प्रोजेक्ट लगभग 170 करोड़ रुपये का है। रोड के लगभग 38 किलोमीटर की जिम्मेदारी केसीसी बिल्डकाम प्राइवेट लिमिटेड ने गुरुग्राम के सेक्टर-51 निवासी परिवर्तन सिंह की कंपनी परिवर्तन बिल्डटेक प्राइवेट लिमिटेड को वर्ष 2017 के दौरान दी थी।

38 किलोमीटर हिस्से को बनाने के लिए दाेनों कंपनी के बीच 75 करोड़ रुपये में समझौता किया गया था। परिवर्तन सिंह का आरोप है कि शुरुआत में काम ठीक चला लेकिन बाद में दिक्कत आने लगी तो उन्होंने शिकायत की। शिकायत के ऊपर केसीसी बिल्डकाम प्राइवेट लिमिटेड के निदेशकों ने ध्यान नहीं दिया।

परेशान होकर उन्होंने फरवरी 2019 में काम बंद करके हिसाब मांगा तो केसीसी के निदेशक शिवराज कुंडू एवं मोहम्मद हाशिम ने भोपाल कार्यालय में बुलाकर कहा कि काम नहीं करने पर न ही बकाया राशि मिलेगी और न ही साइट से मशीन व अन्य सामान उठाने देंगे। इसके बाद उन्होंने फिर काम करना शुरू कर दिया।

उस दौरान दो करोड़ रुपये दिए गए बाकी राशि जल्द देने का आश्वासन दिया गया लेकिन राशि नहीं दी गई। इस बीच मार्च 2019 के दौरान साइट पर अचानक मोहम्मद हाशिम एवं उनके कुछ लोग पहुंचे और काम कर रहे स्टाफ को मारपीट करके भगा दिया। यही नहीं सभी मशीन व अन्य सामान अपने कब्जे में ले लिया।

28 मार्च 2019 को उनकी कंपनी को टर्मिनेशन ऑफ कांट्रैक्ट का लेटर पकड़ा दिया। इसके बाद उन्हें गोल्फ कोर्स रोड स्थित मुख्य कार्यालय में बुलाया गया। वहां पर शिवराज कुुंडू, बीके लांबा एवं बलराज कुंडू ने बैठकर समझौते की बात की। प्रोजेक्ट 75 करोड़ रुपये का था। काम 55 फीसद हो चुका था।

 

News Josh Live

यह भी पढ़ें

कुछ खास x