हरियाणा में अब हर इमरजेंसी के लिए डायल करें बस एक ही नंबर, तुरंत मिलेगा रिस्पांस

हरियाणा में अब हर इमरजेंसी के लिए डायल करें बस एक ही नंबर, तुरंत मिलेगा रिस्पांस

हरियाणा में अब हर इमरजेंसी के लिए डायल करें बस एक ही नंबर, तुरंत मिलेगा रिस्पांस

News Josh  Live, 14 Oct, 2020

हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने कहा कि प्रदेश में इमरजैंसी रिस्पांस एंड स्पोर्ट सिस्टम डायल 112 को इस वर्ष 30 दिसम्बर पूरा कर लिया जाएगा। इसके बाद राज्य के किसी भी क्षेत्र में 15 से 20 मिनट में आपातकालीन पुलिस व अन्य सेवाएं उपलब्ध होगी।

विज ने इस संबंध में पंचकुला में पुलिस विभाग की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि हरियाणा पुलिस का यह एक क्रांतिकारी कदम हैं, जिससे राज्य में लोगों को किसी भी आपात स्थिति में पुलिस की सहायता प्राप्त होगी।

उन्होंने कहा कि इस प्रणाली के सुचारू संचालन के लिए करीब 40 करोड रूपए की लागत से नए भवन का निर्माण किया गया है तथा सी-डैक को करीब 152 करोड रूपए का वर्क आर्डर दिया गया है। हरियाणा पुलिस के इस हाई-टैक प्रोजैक्ट के तहत करीब 94 करोड रूपए की 630 नई इनोवा गाडियां खरीदी जा रही है। इसके लिए करीब 4700 कर्मचारियों को लगाया जाएगा, जोकि नागरिकों को समय रहते प्रभावी सेवाएं उपलब्ध करवाएंगे।

डायल 112 की प्रगति पर संतोष प्रकट करते हुए गृहमंत्री ने कहा कि राज्य के प्रत्येक नागरिक तक इन सेवाओं की पहुंच बनाने के लिए हिन्दी, अंग्रेजी, पंजाबी तथा हरियाणावी सहित चार भाषाओं के जानकारों को काॅल सैंटर में लगाया जाएगा। ये प्रदेशभर से आने वाली फोन काॅल को सुनकर आगे रिस्पांस टीम तक अपने संदेश भेजेगी, जोकि शहरी क्षेत्रों में अधिकतम 15 मिनट तथा ग्रामीण क्षेत्रों में 20 मिनट में शिकायतकर्ता के पास पहुंचेगी।

इस पूरी घटनाक्रम का बैक-अप डीजीपी कार्यालय में होगा तथा सी-डैक हैदराबाद में भी पूरा डाटा सुरक्षित रहेगा। इस संबंध में कोई भी शिकायतकर्ता वायस काॅल, मैसेज, मेल, वेब अलर्ट तथा सोशल मिडिया के माध्यम से भी अपनी शिकायत भेज सकेगा। इस संबंध में कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। बैठक के दौरान गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोडा ने इस प्रणाली को समय पर पूरा करने तथा शुरू करवाने का आश्वासन दिया।

इससे पहले पुलिस महानिदेशक हरियाणा मनोज यादव ने गृहमंत्री को इमरजैंसी रिस्पांस एंड स्पोर्ट सिस्टम डायल 112 की पूरी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इस परियोजना के लागू होने से अपराध स्थल पर पुलिस तुरन्त पहंुचेगी, जिसके लिए प्रत्येक थाने में 2-2 गांडियां उपलब्ध करवाई जाएगी। इससे राज्य में अपराध में कमी आएगी।

इस अवसर पर पुलिस महानिदेशक अपराध मोहमद अकील, हरियााणा पुलिस हाउसिंग काॅरपोरेशन के प्रबन्ध निदेशक डाॅ आर सी मिश्रा, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक आलोक राय, नवदीप सिंह विर्क, कलाराम चंद्रन, पुलिस आयुक्त सौरभ सिंह सहित विभाग के अनेक वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

News Josh Live

यह भी पढ़ें

कुछ खास x