कोरोना के आंकड़ों पर बोले खट्टर- शोर मचाने से मृत लोग लौटेंगे नहीं, हम लोग कुछ नहीं कर सकते

कोरोना के आंकड़ों पर बोले खट्टर- शोर मचाने से मृत लोग लौटेंगे नहीं, हम लोग कुछ नहीं कर सकते

कोरोना के आंकड़ों पर बोले खट्टर- शोर मचाने से मृत लोग लौटेंगे नहीं, हम लोग कुछ नहीं कर सकते

पत्रकार ने पूछा कि PRO का कहना है की भाईचारे की वजह से मीडिया को आंकड़े देते हैं. जनता के लिए हमारी कोई जवाबदेही नहीं है? इस सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री खट्टर ने कहा, “यह वक्त आंकड़ों पर ध्यान देने का नहीं है. अब जिसकी मौत हो गई है, वो हमारे शोर मचाने से जिंदा नहीं होगा

कोरोना से हो रही मौतें और आंकड़ों को लेकर हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने विवादित बयान दिया है. मुख्यमंत्री खट्टर ने एक सवाल के जवाब में कहा कि मौजूदा वक्त आंकड़ों पर ध्यान देने का नहीं है. हमारे शोर मचाने से मृत लोग वापस नहीं आएंगे. ये प्राकृतिक आपदा है, हमलोग कुछ नहीं कर सकते. दरअसल मंगलवार को मुख्यमंत्री खट्टर, कोरोना आपदा के दौरान अस्पताल की व्यवस्थाओं का जायजा लेने पहुंचे थे. इसी दौरान एक पत्रकार ने मौत के आंकड़ो को लेकर मुख्यमंत्री से सवाल किया था.

पत्रकार ने पूछा कि PRO का कहना है कि भाईचारे की वजह से मीडिया को आंकड़े देते हैं. जनता के लिए हमारी कोई जवाबदेही नहीं है? इस सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री खट्टर ने कहा, “यह वक्त आंकड़ों पर ध्यान देने का नहीं है. अब जिसकी मौत हो गई है, वो हमारे शोर मचाने से जिंदा नहीं होगा. ये प्राकृतिक आपदा है इसमें हम कुछ नहीं कर सकते.” इससे पहले आजतक के सीएम सम्मलेन में सीएम खट्टर ने कहा था कि इस बार कोरोना की लहर घातक है, लेकिन इस स्थिति से निपटने के लिए हरियाणा राज्य पूरी तरह से तैयार है. उन्होंने लॉकडाउन पर बात करते हुए कहा कि लॉकडाउन लगाना कोई भी उपाय नहीं है. इससे लोग और भी ज्यादा पैनिक हो जाते हैं. वहीं लॉकडाउन की वजह से आर्थिक व्यवस्था भी बिगड़ जाती है.

सीएम ने कहा कि हम अपने राज्य में मेडिकल व्यवस्था पर पूरा ध्यान दे रहे हैं. उन्होंने कहा कि हमारे पास पर्याप्त मात्रा में बेड और वेंटिलेटर हैं. उन्होंने कहा हमने कोरोना गाइडलाइन को पालन कराने में ज्यादा ध्यान दिया है. वहीं टीका उत्सव पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि हमारे राज्य ने चार दिनों में 5 लाख वैक्सीनेशन का लक्ष्य रखा है. उन्होंने कहा कि वैक्सीन की कोई कमी नहीं है. हम पूरी तेजी के साथ अपने लक्ष्य को हासिल करने में जुटे हैं. वहीं कोरोना के दौरान परीक्षाओं को लेकर सीएम ने कहा कि परीक्षाएं कराई जाएंगी. ऐसे में इस बात का ध्यान रखा जाएगा कि किसी भी तरह से कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन ना हो

News Josh Live

यह भी पढ़ें

कुछ खास x