जींद उपचुनाव के नतीजे आयेंगे दोपहर 12 बजे तक

जींद उपचुनाव के नतीजे आयेंगे दोपहर 12 बजे तक

जींद उपचुनाव के नतीजे आयेंगे दोपहर 12 बजे तक

जींद उपचुनाव के नतीजे आयेंगे दोपहर 12 बजे तक

जींद चुनाव के नतीजों को लेकर सभी पार्टियाँ व उनके कार्यकर्ता बेचैन है की जीत किसकी होगी मगर अब समय आ गया है। जींद उपचुनाव के नतीजे वीरवार, 31 जनवरी को दोपहर 12 बजे तक पूर्ण रूप से घोषित कर दिए जायेंगे।

राज्य निर्वाचन आयोग ने की मतगणना के लिए पूरी तैयारी कर ली है। जींद उपचुनाव में सारी ही पार्टियाँ अपनी जीत का दावा कर रही है। एक तरफ भारतीय जनता पार्टी जींद में भारी मतों से जीत का दावा कर रही है तो दूसरी तरफ जननायक जनता पार्टी ने भी सभी दलों को पसीने ला दिए है। एसे में जींद उपचुनाव के नतीजे काफी दिलचस्प होने वाले है।

जींद के अर्जुन स्टेडियम में 31 जनवरी दिन वीरवार को सुबह 8 बजे मतगणना शुरू हो जाएगी। बताया जा रहा है की दोपहर के 12 बजे तक पूर्ण नतीजे घोषित कर दिए जायेंगे।

जींद में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजे होंगे आकर्षक

जींद में 28 जनवरी को विधानसभा उपचुनाव हुए है। जिसपर पूरे देश की निगाहे टिकी है। अगले लोकसभा व विधानसभा चुनाव के नतीजों का अनुमान भी जींद उपचुनाव द्वारा लगाया जा रहा है। जींद उपचुनाव में लगभग 75 फ़ीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। जीत-हार का फ़ैसला तो 31 जनवरी दिन वीरवार को होगा। तब तक पढ़ते रहिए न्यूज जोश।

जींद में हुआ पहले से ज़्यादा मतदान 

पिछले चुनाव की अपेक्षा जींद में अबकि बार मतदान में 5 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। पिछले जींद चुनाव में करीब 70 फीसदी मतदान हुआ था। पिछले साल की अपेक्षा अबकि बार मतदान में जागरूकता आयी। जींद उपचुनाव में पिछली बार से ज़्यादा महिलाओं ने मतदान किया। अबकि बार महिलाओं की ज़्यादा संख्या में बाहर आयी है जिससे जींद उपचुनाव पर खासा असर पड़ा है।

जींद उपचुनाव में मतदान के दौरान अबकि बार मतदाताओं में अलग ही जोश दिखाई दिया। शहर व ग्रामीण मतदाता पहले की अपेक्षा ज़्यादा मात्रा में मतदान के लिए घरों से निकले। जींद में किस पार्टी की विजय होगी यह दावा करना अभी सम्भव नही है।

जींद उपचुनाव में जननायक जनता पार्टी, भाजपा व कांग्रेस में काँटे की टक्कर थी।  उपचुनाव में सारी ही पार्टियाँ अपनी जीत का दावा कर रही है मगर ऐसे दावे हर बार फैल होते नज़र आते है। जीत का फ़ैसला तो मतदाता ही करते है।

जींद किसी जमाने में इनेलो व कांग्रेस का गढ़ रहा है। इनेलो के 2 टुकड़े हो गये व कांग्रेस के सारे कार्यकर्ताओं ने पूरी ज़िम्मेदारी से चुनाव लड़ा। जननायक जनता पार्टी में सारे दलों के पसीने छुड़वा दिए। जबकि भारतीय जनता पार्टी के सारे नेताओ ने भी पूरी निष्ठा से चुनाव प्रचार किया।

News Josh Live

यह भी पढ़ें

कुछ खास x