किसानों का लाठियों से सिर फुड़वा कर अब हमें लाठीचार्ज की परिभाषा समझा रहे हैं- सुरजेवाला

किसानों का लाठियों से सिर फुड़वा कर अब हमें लाठीचार्ज की परिभाषा समझा रहे हैं- सुरजेवाला

किसानों का लाठियों से सिर फुड़वा कर अब हमें लाठीचार्ज की परिभाषा समझा रहे हैं-  सुरजेवाला

News Josh Live, 21 Sept, 2020

हरियाणा में किसानों पर हुए लाठीचार्ज के बाद से राजनीति सियासत शुरू हो गई है। वहीं गृहमंत्री अनिल विज के बयान के बाद मुख्यमंत्री के द्वारा  किसानों पर लाठीचार्ज ना होने के बयान पर कांग्रेस के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्वीट कर निशाना साधा है। सुरजेवाला ने कहा कि सरकार का अहंकार चरम पर है। किसानों के लाठियों से सिर फुड़वा दिये और बेरहमी से पिटवा दिया और अब परिभाषा समझा रहे हैं।

वहीं लोकसभा के बाद राज्यसभा में भी कृषि विधेयक पास होने के बाद कांग्रेस नेेेेता हरियाणा में राज्यभर मेंं जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन कर रहे हैं। विरोध प्रदर्शनों में कांग्रेस के तमाम दिग्गज नेता शामिल हैं। कार्य कार्यसमिति के सदस्य कुलदीप बिश्नोई हिसार और कु. सैलजा जींद में आंदोलन का नेतृत्व कर रही हैं, जबकि भूपेंद्र सिंह हुड्डा सोनीपत में प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व कर रहे हैं।

जींद में कृषि अध्यादेशों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन में शामिल प्रदेश कांग्रेस अध्यक्षा कुमारी सैलजा ने कहा कि कृषि प्रधान देश में अन्नदाताओं के खिलाफ षड्यंत्र रचकर भाजपा सरकार ने हमारे देश की आत्मा पर प्रहार किया है। यह बिल कृषि क्षेत्र को पूंजीपतियों के हाथों में गिरवी रखने वाले हैं।

वहीं, झज्जर में कांग्रेस विधायकों ने जिला मुख्यालय पर जोरदार विरोध प्रदर्शन किया। विधायक डॉ. रघुबीर सिंह कादियान एवं कुलदीप वत्स ने महामहिम राष्ट्रपति के नाम डीसी जितेंद्र दहिया को ज्ञापन सौंपा। कांग्रेस नेताओं ने इसे पूरी तरह से किसान विरोधी करार देते हुए कहा कि सरकार किसान विरोधी है और इसे निरस्त किया जाना चाहिए। बताया कि भारत के जिस भी राज्य में कांग्रेस की सरकार है वहां पर इस अध्यादेश को कैंसिल कर दिया गया है और कांग्रेस पार्टी किसानों के हित के लिए सड़क से लेकर संसद तक पूरी शिद्दत के साथ यह लड़ाई लड़ेगी।

 

News Josh Live

यह भी पढ़ें

कुछ खास x