आज से खुलें स्कूल, कॉलेज और कोचिंग सेंटर, इन नियमों का करना होगा पालन

आज से खुलें स्कूल, कॉलेज और कोचिंग सेंटर, इन नियमों का करना होगा पालन

आज से खुलें स्कूल, कॉलेज और कोचिंग सेंटर, इन नियमों का करना होगा पालन

News Josh Live, 02 Nov, 2020

कोरोना वायरस के संक्रमण के बीच अनलॉक के दौरान हरियाणा प्रदेश में आज से सरकारी स्कूल खोल दिए गए हैं। बता दें कि लंबे समय से बंद स्कूल, कॉलेजों व कोचिंग सेंटरों में सोमवार से रौनक लौट आएगी। सोमवार से स्कूलों में नौवीं से बारहवीं के अलावा कॉलेजों व कोचिंग सेंटरों में कक्षाएं शुरू हो सकेंगी। हालांकि कोविड-19 के सभी नियमों का पालन करना होगा। कॉलेज प्रशासन की तरफ से भी अपनी तैयारी कर ली है, लेकिन इस समय कॉलेजों में प्रथम वर्ष के दाखिले व द्वितीय व तृतीय वर्ष के विद्यार्थियों द्वारा फीस भरने की प्रक्रिया पूरी की जा रही है।

यह सब प्रक्रिया 5 नवंबर तक चलेगी। ऐसे में यह सप्ताह कॉलेजों में लगभग दाखिला प्रक्रिया में ही बीतने वाला है। अगले सप्ताह से रूटीन में कक्षाएं लगने की उम्मीद है। वर्तमान में भी 10 से 15 प्रतिशत बच्चे ही कॉलेजों में परामर्श लेने के लिए आ रहे हैं, जिससे ज्यादा संख्या राजकीय महिला कॉलेजों में ही है, जबकि को-एड कॉलेजों में पढ़ाई के लिए आने वाले विद्यार्थियों की संख्या बहुत कम है।

कॉलेज प्रशासन की तरफ से टाइम टेबल पहले ही तैयार किया हुआ है। हालांकि ऑनलाइन कक्षाएं भी साथ-साथ ही जारी रहेंगी ताकि कॉलेज न आने वाले विद्यार्थियों को किसी प्रकार की परेशानी न हो। स्कूल भी सोमवार से खुल जाएंगे। 20-20 ग्रुपों में कक्षाएं लगाई जाएंगी। इसके लिए सभी स्कूलों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं। रोस्टर को खत्म कर दिया गया है। स्कूल मुख्याध्यापक भी चाहेंगे तो वह पहली से आठवीं कक्षा के शिक्षकों को बुला सकेंगे

लॉकडाउन के बाद से ही कोचिंग सेंटर बंद चल रहे हैं। अब 2 नवंबर से कोचिंग सेंटर भी खुल सकेंगे और कक्षाएं लग सकेंगी। जींद शहर का एजुकेशन हब कहे जाने वाले हुडा ग्राउंड में अब कोचिंग सेंटरों पर सफाई का काम शुरू हो चुका है। कोचिंग सेंटर संचालक भी पूरी तरह से तैयार है। शहर में लगभग 60 कोचिंग सेंटर व लाइब्रेरी हैं।

सोमवार से कॉलेज में कक्षाएं लगनी शुरू हो जाएंगी। फिलहाल प्रथम वर्ष के बच्चों दाखिला प्रक्रिया जारी है और द्वितीय व तृतीय वर्ष के विद्यार्थी 5 नवंबर तक फीस भरेंगे। ऐसे में पहले सप्ताह देखा जाएगा कि कितनी उपस्थिति रहती है। उसके बाद अगले सप्ताह से नियमित कक्षाएं लगने की उम्मीद है।

 

News Josh Live

यह भी पढ़ें

कुछ खास x