भिवानी में टांग तोड़ गैंग का आतंक, गांव बलियाली में एक घंटे जमकर मचाया तांडव, दो को मारी गोली

भिवानी में टांग तोड़ गैंग का आतंक, गांव बलियाली में एक घंटे जमकर मचाया तांडव, दो को मारी गोली

भिवानी में टांग तोड़ गैंग का आतंक, गांव बलियाली में एक घंटे जमकर मचाया तांडव, दो को मारी गोली

भिवानी। गांव बलियाली में टांग तोड़ गैंग के नाम से प्रसिद्ध कुछ युवकों ने हथियारों से लैश होकर वीरवार शाम को कुछ युवकों पर लाठी-डंडों, फर्सों से हमला कर दिया। गांव में दोनों गुटों के बीच करीब एक घंटे तक जमकर घमासान हुआ। टांग तोड़ गैंग के सदस्यों ने तीनों युवकों के पैरों पर धारदार हथियार से हमला कर घायल कर दिया। घायलों ने गोली चलाए जाने का भी आरोप लगाया है।

सदर थाना पुलिस ने मौके पर पहुंच कर मामले को शांत किया। पहले भी इन दोनों गुटों के बीच जमकर विवाद हो चुका है। घायलों को उपचार के लिए सामान्य अस्पतला में दाखिल करवाया गया है। डीएसपी हेडक्वाटर वीरेंद्र सिंह ने अस्पताल पहुंच कर तीनों घायलों के बयान दर्ज किए।गांव बलियाली निवासी सोनू ने बताया कि गांव में कुछ युवकों ने टांगतोड़ नाम से अपना गिरोह बनाया हुआ है। ये युवक जब भी कोई विवाद होता है गांव के लोगों पर हमला कर टांग तोड़ देते हैं।

वीरवार को दोनों गुटों में हुई थी कहासुनी

सोनू ने बताया कि वीरवार को इस गिरोह के युवकों से अशोक उर्फ मघू की मामूली कहासुनी हो गई थी। इस बात को लेकर फर्से चलाने से लेकर गोली चलाने तक विवाद बढ़ गया। सोनू ने बताया कि बलियाली व आस-पड़ोस के गांवों के 20-25 युवकों ने उन पर हमला बोल दिया। रिवॉल्वर से गोली तक चलाई गई। धारदार फर्से मार कर अशोक उर्फ मघू, सोमबीर व विनोद को घायल कर दिया।

दो युवकों को लगी गोली

सोनू ने कहा कि इस गैंग ने उसे भी घर में घुस कर गोली मारने की धमकी दी है। अशोक व सोमवीर को गोली भी लगी है। सूचना मिलते ही सदर थाना पुलिस टीम गांव पहुंची। मामले को किसी तरह शांत करवाया गया। तीनों घायालों को उपचार के लिए सामान्य अस्पताल में दाखिल करवाया गया। डीएसपी हेडक्वाटर वीरेन्द्र सिंह नागरिक अस्पताल में घायलों के बयान लेने पहुंचे। 

टांग तोड़ गैंग के नाम से प्रसिद्ध है यह गैंग

बलियाली में इन दोनों गैंग को टांगतोड़ गैंग के नाम से जाना जाता है। हर बार मौका मिलने पर ये इक दूसरे की टांगों को इस कदर तोड़ते हैं कि चोट लगने वाला कभी ज़िंदगी में अपनी टांगों पर न लल पाए। हर बार लाठी, डंडे व सरियों से लड़ने वाले गैंग में इस बार गोलीबारी के आरोप लगे हैं।

चार-पांच साल से चल रहा दोनों गुटों में झगड़ा

डीएसपी हेडक्वार्टर भिवानी वीरेंद्र सिंह ने बताया कि यह गैंगवार की बजाय दो गुटों का झगड़ा है। दोनों गैंग छोटी-छोटी बात पर झगड़ा करते हैं। दोनों गुट में चार पांच साल से झगड़े हो रहे है। दोनों गुट के सदस्यों के खिलाफ लड़ाई-झगड़े व मारपीट के कई मामले दर्ज हैं। अभी गोली लगने की बात भी स्पष्ट नहीं हो पाई है। पुलिस द्वारा शिकायत दर्ज करवाने के आधार पर आगामी कार्रवाई की जाएगी।

News Josh Live

यह भी पढ़ें

कुछ खास x