हरियाणा के दो दोस्त साढ़े 9 लाख के नकली नोटों सहित गिरफ्तार, यूट्यूब पर सीखा था नोट छापने का तरीका

हरियाणा के दो दोस्त साढ़े 9 लाख के नकली नोटों सहित गिरफ्तार, यूट्यूब पर सीखा था नोट छापने का तरीका

हरियाणा के दो दोस्त साढ़े 9 लाख के नकली नोटों सहित गिरफ्तार, यूट्यूब पर सीखा था नोट छापने का तरीका

News Josh Live, 07 Nov, 2020

पंजाब के बठिंडा में सीआइए टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर छापा मारकर हरियाणा के दो युवकों को साढ़े नौ लाख रुपये के नकली नोटों के साथ गिरफ्तार किया है। दोनों आरोपियों की पहचान डबवाली के वार्ड नंबर 11 निवासी पंकज कुमार और वार्ड नंबर 16 निवासी सोनू कुमार के रुप में हुई है। पुलिस ने आरोपितों से कलर प्रिंटर भी बरामद किया है।

पुलिस ने बताया कि आरोपियों ने पूछताछ के दौरान बताया कि उऩ्होने यह काम यूट्यूब पर देखकर शुरु किया था। दस दिन में ही आरोपियों ने साढ़े नौ लाख रुपये के नकली नोट छाप दिये। पुलिस पूछताछ में सामने आया कि एक आरोपित पंकज कुमार पर करीब सात लाख रुपये का कर्ज था, उस कर्ज को उतारने के लिए यह रास्ता अपनाया था। जिसके बाद सोनू के घर पर नोटों की छपाई की।

एसपी गुरबिंदर सिंह संघा ने बताया कि उक्त लोग फिलहाल दुकानों व पंट्रोल पंपों पर छोटी संख्या में नकली करंसी चला रहे थे। अब तक वह मार्केट में करीब 15 हजार रुपये की करंसी चला चुके हैं, जबकि बाकी करंसी इन्होंने त्योहारी सीजन में चलानी थी। नकली करंसी चलाने का तरीका यह था कि किसी को दो हजार रुपये देने है, तो उसमें 500 रुपये के नकली नोट शामिल कर देते थे, ताकि पैसे लेने वाले को कोई शक ना हो सके।

एसपी संघा का दावा है कि इन लोगों ने किसी अपराधिक व्यक्ति को नकली करंसी सप्लाई नहीं की है, लेकिन फिर भी पुलिस ने आरोपितों का पुलिस रिमांड लेकर पूछताछ कर रही है, ताकि पता चल सके कि अब तक इन्होंने किन-किन लोगों को करंसी सप्लाई की है और आगे किस-किस को करनी थी।

सीआइए स्टाफ वन के इंचार्ज इंस्पेक्टर अमृतपाल सिंह भाटी ने बताया कि पकड़े गए दोनों आरोपितों पर पहले कोई भी मामला दर्ज नहीं है, लेकिन आरोपित सोनू पर कर्ज होने के कारण उसने यह रास्ता अपनाया।

इंस्पेक्टर भाटी ने बताया कि आरोपित पंकज डबवाली के बस स्टैंड पर धार्मिक बुक शाप चलाता है, जबकि आरोपित साेनू जूतियां बनाने का काम करता है। दोनों आपस में दोस्त होने के कारण उन्होंने कर्ज उतराने के लिए यह तरीका अपनाया। उन्होंने बताया कि नोट छपाने के लिए यह लोग आनलाइन एक बेवसाइट से पेपर मंगवाते थे। नोट किस प्रकार छपते हैं, इसकी ट्रेनिंग उन्होंने यूट्यूब पर ली।

News Josh Live

यह भी पढ़ें

कुछ खास x