प्याज ने रुलाया, टमाटर हुआ लाल, जानिए सब्जियों के महंगे होने की वजह ?

प्याज ने रुलाया, टमाटर हुआ लाल, जानिए सब्जियों के महंगे होने की वजह ?

प्याज ने रुलाया, टमाटर हुआ लाल, जानिए सब्जियों के महंगे होने की वजह ?

News Josh Live, 16 Sept, 2020 

देशभर में कोरोना काल के कारण वैसे ही लोगों की आमदनी घटी है, रोजगार कम हुए हैं। ऊपर से सब्जियों की बढ़ी हुई कीमत ने आम आदमी को और परेशान करके रख दिया है। लॉकडाउन और बारिश के चलते देशभर में सब्जियों के दाम आसमान छूने लगे हैं। दिल्ली, मुंबई और कोलकाता समेत देशभर के सब्जी मंडियों में इस समय सब्जियों की कीमतों में बढ़ोतरी देखी जा रही है।

सब्जियों की कीमतें पिछले एक हफ्ते में दोगुना बढ़ चुकी हैं। लोगों की थाली से टमाटर, प्याज,  आलू समेत अन्य हरी सब्जियां गायब हो रही हैं। यूं तो हर साल बरसात में हरी सब्जी महंगी होती है। लेकिन आलू, टमाटर और प्याज की कीमत इस बार बढ़ने से लोगों की चिंता और बढ़ गई है।

फिर रुलाने लगी प्याज

देश की सबसे बड़ी फल और सब्जी मंडी आजादपुर मंडी, दिल्ली में प्याज की कीमत थोक भाव में 40-45 रुपए पहुंच गई है। यही सप्ताह भर पहले 15-20 रुपए प्रति किलो के हिसाब से मिल रही थी। आजादपुर मंडी के चेयरमैन आदिल अहमद खान ने बताया कि दो सप्ताह तक सिर्फ टमाटर और बाकी हरी सब्जियों के रेट में बढ़ोतरी देखी जा रही थी, लेकिन इस समय प्याज के भाव बढ़ गए हैं। दिल्ली समेत आसपास के कई शहरों में रिटेल में इस समय प्याज 60 से 80 रुपए किलो के भाव पर बिक रहा है।

इस वजह से बढ़े प्याज के दाम

प्याज की कीमतों में तेजी के पीछे फसल का खराब होना है। दरअसल, कर्नाटक, आंध्र, मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र से इस समय खरीफ के प्याज की उपज बाजार में आती है। लेकिन, इन सभी राज्यों में भारी बारिश के चलते 50 फीसदी फसल खराब हो गई। साथ ही भारी बारिश ने महाराष्ट्र में प्याज के पुराने स्टाक की क्वॉलिटी पर भी असर डाला है। इसके इनकी कीमतों में बढ़ोतरी शुरू हो गई है।

टमाटर भी हुआ महंगा

टमाटर की रेट की बात की जाय तो दिल्ली के आजादपुर मंडी से लेकर गाजीपुर मंडी में इस समय टमाटर 80 रुपए के पार पहुंच गया है। मुंबई की सब्जी मंडियों में टमाटर 80 से 100 रुपए प्रति किलो के भाव पर पहुंच गया है। वहीं कोलकाता में टमाटर का भाव 100 रुपए के पार हो गया है। इतना ही इन शहरों में सभी हरी सब्जियों के भाव बढ़ गए हैं। इसी तरह इस समय आलू थोक में 26 रुपए किलो तो रिटेल में 35-40 रुपए किलो मिल रहा है। पिछले सप्ताह आलू का थोक भाव 15 रुपए प्रति किलो था।

क्या अभी और बढ़ेंगे दाम ?

अगर एक बारिश और हो गई तो सब्जी और महंगी हो जाएगी। टमाटर के साथ आलू और प्याज के दाम भी अभी और ऊपर जाएंगे। बारिश के कारण ज्यादातर हरी सब्जियां खराब हो गई हैं लेकिन मार्केट में डिमांड अधिक होने के कारण हरी सब्जियों के भाव बढ़े हैं।

 

News Josh Live

यह भी पढ़ें

कुछ खास x