करनाल में महिला से ठगी, लोन दिलाने के लिए 15 हजार, फर्जी साइन कर हड़प लिया लोन

करनाल में महिला से ठगी, लोन दिलाने के लिए 15 हजार, फर्जी साइन कर हड़प लिया लोन

करनाल में महिला से ठगी, लोन दिलाने के लिए 15 हजार, फर्जी साइन कर हड़प लिया लोन

करनाल। एक महिला से ऋण दिलवाने की एवज में आवेदन करने के खर्च के नाम पर 15 हजार लेने और फिर बैंक में फर्जी साइन कर राशि निकलवा लिए जाने का मामला सामने आया है। महिला की शिकायत पर बैंक मैनेजर सहित तीन लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

शिव कॉलोनी की रहने वाली कलावती ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसके पास सुल्तान सिंह नाम का व्यक्ति आया। उसने खुद को हरिजन कल्याण निगम का पूर्व डीएम बताया। उसने कहा कि अनुसूचित जाति के लोगों के लिए सब्सिडी आधारित ऋण देने की नई स्कीम आई है। वह भी इसका फायदा उठा सकती है। वह उसकी बातों में आ गई। आवेदन करने के नाम पर आरोपित को पहले 500 रुपये और फिर 15 हजार रुपये भी दे दिए। इस दौरान आरोपित ने उससे कई कागजातें पर हस्ताक्षर करवा लिए। उसके बाद आरोपित कहने लगा कि जल्द ऋण पास होकर खाते में पैसे आ जाएंगे। इसके लिए उन्हें बैंक में जाना होगा।

बैंक में ले जाकर खुलवाया खाता

इसके बाद फूसगढ़ स्थित एक बैंक शाखा में ले जाकर खाता खुलवा दिया। उसके बाद आरोपित ने अपने अन्य आरोपी साथी बैंक मैनेजर, सरकारी विभाग में कार्यरत आरोपित रामेश्वर के साथ मिल कर फर्जी हस्ताक्षर कर उसके खातें से लोन की राशि निकलवा ली। काफी दिन बीत जाने के बाद महिला  निगम में पहुंची और लोन के बारे में पता किया। यहां से महिला को पता चला कि उसके खाते में सब्सिडी भी भेज दी गई है। महिला कहने लगी कि उसके खाते में न तो सब्सिडी आई है, न ही ऋण के पैसे। निगम के अधिकारी कहने लगे की सब्सिडी व लोन की राशि खाते में जा चुकी है।

मिलीभगत कर लाखों का गबन किया

इसके बाद वह बैंक में पहुंची और मैनेजर से बात की तो वह तत्काल ही वहां से चला गया। महिला ने आरोप लगाए कि मिलीभगत कर उसके साथ लाखों रुपये का गबन कर लिया। महिला की शिकायत के आधार पर पुलिस ने तीनों आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी। उधर, रामनगर थाना प्रभारी जगबीर सिंह का कहना है कि महिला की शिकायत पर तीनों आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है।

कई महिलाओं को बनाया निशाना

पीड़ित महिला ने यह भी आरोप लगाए हैं कि कई महिलाओं को निशाना बनाया जा चुका है। मामले की गहनता से जांच की जा रही है और जल्द ही सच्चाई का पता लगा लिया जाएगा। महिला के खाते से कितनी राशि निकवाई गई है और कौन-कौन लोग इसमें शामिल है, यह अभी जांच का विषय है।

News Josh Live

यह भी पढ़ें

कुछ खास x