हरियाणा के सात जिलों की 42 महिला प्रतिनिधियों को स्कूटी देकर किया सम्मानित, देंखे पूरी लिस्ट

हरियाणा के सात जिलों की 42 महिला प्रतिनिधियों को स्कूटी देकर किया सम्मानित, देंखे पूरी लिस्ट

हरियाणा के सात जिलों की 42 महिला प्रतिनिधियों को स्कूटी देकर किया सम्मानित, देंखे पूरी लिस्ट

News Josh Live, 25 Oct, 2020

प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने सात जिलों की पंचायती राज संस्थाओं की  42 महिला जन प्रतिनिधियों को सराहनीय कार्य करने पर हीरो कम्पनी की स्कूटी देकर प्रोत्साहित किया है। उन्होंने कहा कि जल्द ही उत्तरी हरियाणा के पांच जिलों की महिला जन प्रतिनिधियों को सम्मानित करने के लिए पंचकूला में भी सम्मान समारोह का आयोजन करवाया जाएगा।

जींद जिले में आयोजित कार्यक्रम में डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने प्रदेश के सात जिलों- भिवानी, दादरी, जींद, हिसार, सिरसा, फतेहबाद और कैथल की पंचायती राज संस्थाओं की महिला जन प्रतिनिधियों को सम्बोन्धित करते हुए कहा कि राज्य सरकार ग्रामीण क्षेत्र और महिलाओं के विकास एवं उत्थान के लिए लगातार प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव में महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा ताकि महिलाएं किसी भी क्षेत्र में पीछे न रहे बल्कि आगे आकर अपने क्षेत्र, गांव एवं इलाके के विकास में अहम भागीदारी निभाकर प्रदेश के विकास में शत प्रतिशत सहयोग दे सकें।

उन्होंने कहा कि पंचायती राज संस्थाओं में सराहनीय कार्यों के लिए महिला जन प्रतिनिधियों को सम्मानित किया जा रहा है और जल्द ही पंचकूला में इसी तरह का एक कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा जिसमें शेष रही पांच जिलों की महिला जन प्रतिनिधियों को स्कूटी देकर सम्मानित किया जाएगा। इस तरह का पहला कार्यक्रम गुरूग्राम जिले में आयोजित करवाया जा चुका है ।

अनाज भण्डार गृह के जरिए पंचायतों की बढ़ाई जाएगी आय – डिप्टी सीएम

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पंचायतों की आय बढ़ाने के लिए भी राज्य सरकार प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में सात लाख मीट्रिक टन अनाज का स्टॉक करने के लिए भण्डार गृह बनाए जाएंगे। इन भण्डार गृहों में अन्न रखने पर प्रति क्विंटल सौ रूपए के हिसाब से पंचायतों को आय होगी। यहीं नहीं ग्रामीण क्षेत्र के विकास को लेकर सरकार द्वारा जिला परिषद में मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के पदों पर एचसीएस अधिकारियों को लगाया गया है ।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के हर वर्ग के उत्थान के लिए सरकार द्वारा काम किया जा रहा है। वर्तमान राज्य सरकार द्वारा अनेक ऐसी योजनाएं लागू की गई है जिनकी बदौलत हर वर्ग खुशहाली की ओर अग्रसर है। उन्होंने हाल ही में केंद्र द्वारा लागू किए गए कृषि कानूनों के सम्बन्ध में कहा कि यह कानून किसानों व कृषि के लिए काफी लाभदायक साबित होंगे। उन्होंने कहा कि राज्य में फसलों को एमएसपी पर खरीदा जा रहा है। भविष्य में भी निश्चित रूप से फसलों को एमएसपी पर ही खरीदा जाएगा।

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने जींद के लघु सचिवालय में विकास एवं पंचायत विभाग के सात जिलों के अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने अधिकारियों को आदेश दिए कि ग्रामीण क्षेत्र का विकास तेजी से करवाएं ताकि शहरी तर्ज पर ग्रामीणों को भी सुविधाएं मिले। डिप्टी सीएम ने कहा कि मनरेगा योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्र के विकास को लेकर काफी बड़ी संख्या में विकास कार्य करवाए जा सकते है। उन्होंने  सभी अधिकारी कार्य योजना तैयार कर ग्रामीण क्षेत्र में अधिकाधिक विकास कार्य करवाएं।

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पंचायती राज विभाग में खाली पड़े ग्राम सचिव तथा खण्ड विकास एवं पंचायत अधिकारी के पदों को डेप्यूटेशन आधार पर भरने के लिए अधिकारियों एवं कर्मचारियों से आवेदन मांगे जा चुके है और जल्द इन पदों को भरकर ग्रामीण क्षेत्र के विकास को और तेज किया जाएगा। उन्होंने कहा कि भवन एवं सड़क निर्माण विभाग, वन विभाग, शिक्षा विभाग समेत अन्य कई विभागों में मनरेगा योजना के तहत तेजी से करवाएं जाएंगे, इसको लेकर उन्होंने अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा कि शहरी तर्ज पर ग्रामीण क्षेत्र के कूड़ा-करकट का भी प्रबंधन किया जाएगा।

पंचायती राज संस्थाओं की इन महिलाओं को किया गया सम्मानित

News Josh Live

यह भी पढ़ें

कुछ खास x